Saturday, 27 May 2017

सहारनपुर में मुकेश अंबानी के 'JIO' को मिली अफवाह फैलाने की छूट, अन्य सभी नेटवर्क बैन

सहारनपुर। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में हिंसा की घटनाओं को देखते हुए प्रशासन ने मोबाइल प्रदाता कंपनियों को मैसेज व सोशल मीडिया पर रोक लगाने के आदेश दिये थे। जिलाधिकारी ने एक आदेश जारी करते हुए कहा था कि टेलीकाम प्रदाताओं द्वारा उपलब्ध इंटरनेट, मैसेजिंग एवं सोशल मीडिया का प्रयोग असामाजिक तत्व अफवाह और भ्रामक सूचनाओं को फैलाने में कर रहे हैं। लेकिन इस बीच खबर आ रही थी कि जहां एक तरफ सभी मोबाइल कंपनियों पर रोक लगा दी गई है वहीं मुकेश अंबानी की कंपनी जियो खुलेआम इसका माखौल उड़ा रही है।

तमाम मोबाइल कंपनियों ने सरकार और प्रशासन के आदेश का पालन किया और मोबाइल डेटा बंद कर दिया लेकिन जियो ने अपनी सेवाएं जारी रखी थी। जियो ने इस संवेदनशील माहौल को देखते हुए और सरकारी आदेश होते हुए भी इसका पालन नहीं किया। बाक़ी की तमाम टॉवर मोबाइल पर ऑफलाइन का सिग्नल दे रहे थे लेकिन जिओ से सोशल मीडिया की सारी साइटें खुल रही थीं और व्हॉट्सएप भी चल रहा था।

जब ये बात ख़बरों में आई लोग ट्वीट करने लगे। ट्वीट पर मेंशन आने लगे। दिल्ली में बैठे नेताओं और पत्रकारों तक बात पहुंची। जिलाधिकारी से सवाल पूछे गए तब जाकर जियो का नेट बंद हुआ।

गौरतलब है कि डीएम ने कहा था कि इस प्रकार की जातीय हिंसा में अफ़वाहों की बहुत नकारात्मक और अहम भूमिका होती है। ये आग में घी का काम करती हैं। इसी आशंका के चलते सरकार और प्रशासन ने यह कदम उठाया है ताकि अफवाहों को फैलने से रोका जा सके। 

सवाल यह उठता है कि जियो को यह छूट किसने दी थी? ये सभी जानते हैं कि जियो 4 जी नेटवर्क पर ही काम करता है और उसकी स्पीड सबसे तेज होती है तो क्या प्रशासन यह नहीं समझ पाया कि जिस नेट को बंद हो जाना चाहिए। वह 4G स्पीड दिए जा रहा था। और ये भी सब जानते हैं कि सबसे ज्यादा इंटरनेट यूजर भी जियो के ही हैं।

No comments:

Post a Comment