Wednesday, 7 June 2017

BJP विधायक की दादागीरी, ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड को जड़ा थप्पड़, तानी रायफल

यूपी की राजधानी लखनऊ में सत्ता की हनक का एक चौंकाने वाला उदाहरण देखने को मिला. यहां एक बीजेपी विधायक ने मामूली कहासुनी के बाद ट्रैफिक इंस्पेक्टर के साथ ड्यूटी कर रहे होमगार्ड को थप्पड़ जड़ दिया. इतना ही नहीं, विधायक के गुर्गों ने सिपाही पर रायफल भी तान दी.
मिली जानकारी के मुताबिक, मंगलवार दोपहर मऊ से बीजेपी विधायक श्रीराम सोनकर हजरतगंज इलाके स्थित बापू भवन चौराहे पहुंचे थे. विधायक की गाड़ी रॉंग साइड की ओर जाने लगी. तभी ट्रैफिक इंस्पेक्टर प्रेमशंकर शाही ने उनकी गाड़ी को रोक लिया. उन्होंने मेट्रो कार्य का हवाला देते हुए दूसरे रास्ते से जाने को कहा.
ट्रैफिक इंस्पेक्टर पर भड़के विधायक
फिर क्या था, विधायक जी को एक ट्रैफिक इंस्पेक्टर की यह बात इतनी नागवार गुजरी कि वह बीच सड़क पर इंस्पेक्टर से उलझ पड़े. विधायक श्रीराम उन्हें 1991 से विधायक होने का हवाला देते हुए अपने रूतबे के बारे में बताने लगे. विधायक ने कहा, 'क्या मैं 3 मिनट के रास्ते के लिए 3 किलोमीटर घूमकर जाऊंगा.'


होमगार्ड को जड़ दिया थप्पड़
इसके बाद ट्रैफिक इंस्पेक्टर प्रेमशंकर ने इस मामले की रिकॉर्डिंग की बात कही. विधायक ने तैश में आकर प्रेमशंकर के साथ ड्यूटी कर रहे होमगार्ड को थप्पड़ जड़ दिया. वहीं विधायक के गुर्गों ने प्रेमशंकर पर रायफल तान दी. ट्रैफिक इंस्पेक्टर पर अपने रूतबे को भारी पड़ता देखने के बाद विधायक श्रीराम रॉंग साइड से ही आगे बढ़ गए.
ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन
ट्रैफिक इंस्पेक्टर प्रेमशंकर ने बताया कि विधायक की गाड़ी में हूटर लगा हुआ था और शीशों पर काली फिल्म का प्रयोग किया गया था. यह सरासर ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन है. फिलहाल पीड़ित ने पुलिस में घटना की शिकायत दी है. इस घटना के बाद राज्य के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने घटना की निंदा की है.
सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, 'जनप्रतिनिधियों से अच्छे व्यवहार की उम्मीद की जाती है. उन पर कोई कार्रवाई की जाएगी या नहीं, यह पार्टी तय करेगी.'
गौरतलब है यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पुलिस को बेखौफ होकर काम करने की नसीहत दे रहे हैं. वह अपने मंत्रियों और विधायकों को नियमों का पालन और कानून व्यवस्था बनाए रखने की सलाह भी दे रहे हैं, लेकिन योगी सरकार के विधायकों की दबंगई खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही है. उनके विधायक कानून के साथ खुलेआम खिलवाड़ कर रहे हैं. ऐसे में सवाल खड़ा होता है कि अगर यहीं हाल रहा तो सूबे की जनता आखिर कैसे भयमुक्त होगी.

No comments:

Post a Comment