Wednesday, 7 June 2017

ज़ी टीवी के सुधीर चौधरी पर सनसनी खेज दलाली का स्टिंग ऑपरेशन, दोबारा जा सकते हैं तिहाड़ जेल

एक बहोत ही अहम जानकारी
सन् 2006-2007 के आसपास की बात है स्टिंग ऑपरेशन्स ने अपनी धमक मचा रखी थी और कोबरा पोस्ट जैसे कई संस्थान अपनी धमक इन स्टिंग ऑपरेशन्स के बदौलत बनाए हुए थे....अब मार्केट में अपना नाम आगे करने के लिए लाइव इण्डिया ने भी एक स्टिंग ऑपरेशन किया,सरकारी स्कूल टीचर उमा खुराना का जिसमें पर्दाफाश हुआ उनके द्वारा चलाए जा रहे सेक्स रैकेट का....खूब वाह वाही बटोरी लाइव इण्डिया के CEO सुधीर चौधरी ने,उनके इस खुलासे के बाद आम जनमानस ने स्कूल टीचर उमा खुराना को खूब पीटा और मुँह तक काला किया...लेकिन उमा ने एक जंग का आगाज किया और कोर्ट के दरवाजे को खटखटाया, तमाम सबूतों को जाँचने परखने के बाद कोर्ट इस नतीजे पर पहुँचा कि उमा खुराना बेगुनाह हैं और जो स्टिंग फुटेज था वो एडिटेड था और प्लान्ड वे में बनाया गया है,उसके बाद न्यायालय ने चैनल को एक महीने के लिए बैन कर दिया,चैनल के सीईओ सुधीर चौधरी जो अब तक खुद को क्रान्तिकारी बता रहे थे,उन्होंने अपना पल्ला झाड़ा और रिपोर्टर प्रकाश सिंह को सलाखों के पीछे जाना पड़ा,प्रकाश सिंह चिल्लाते रहे कि सब कुछ सुधीर की जानकारी में था मगर सुधीर आराम से बच निकले....
फिर सुधीर चौधरी जा पहुँचे जी न्यूज में और यहाँ इन्होंने पर्दाफाश करना शुरू किया जिन्दल स्टील्स का,खूब खबरें चलाई Jindal Industries के खिलाफ,जिन्दल साहब के दिन बिगड़ने लग गए क्योंकि भारत में जो चैनल दिखाते हैं वही सब गाते हैं.... Jindal Industries की साख खराब होने लगी,शेयर डाउन होने लगे...तब तक जिन्दल साहब को संजीवनी बूटी मिल गई वही प्रकाश सिंह लाइव इण्डिया वाला पत्रकार बेल पर बाहर आ चुका था और उसे भी मिल गया एक मजबूत साथी सुधीर से पुराना हिसाब चुकता करने के लिए.... जिन्दल साहब ने प्रकाश के बताये रास्ते को अपनाया,जी न्यूज के एडिटर सुधीर चौधरी और जी बिजनेस के एडिटर समीर अहलूवालिया पहुँच गये जिन्दल साहब से मिलने....चाय नाश्ता हुआ और हालचाल हुआ,उसके बाद सुधीर और समीर ने अपनी निष्पक्ष और निडर पत्रकारिता का जलवा दिखाया और सौ करोड़ पर जिन्दल साहब से बात सेट कर ली....लेकिन कमीने को गिराने के लिए कमीना ही चाहिए होता है और अगले दिन पैसा तो नहीं पहुँचा सुधीर और समीर के पास मगर हाँ उनके स्टिंग का वीडियो प्रकाश सिंह ने गुलदस्ते के साथ भिजवा दिया.... खूब चला ये वीडियो और सुधीर चौधरी एवं समीर अहलूवालिया को तिहाड़ तक का सफर तय करना पड़ा....कुछ दिन बाद बेल हो गई और दोनों बाहर आ गए,मुकदमा कोर्ट में चल रहा है और उम्मीद है कि सजा भी हो सकती है...
तो अब तो समझ गये होंगे की सुधीर चौधरी का एकाएक देशप्रेम इतना गहरा क्यों हो गया,और मोदी भक्ति और देशभक्ति उनकी विचारधारा नहीं बल्कि मजबूरी है क्योंकि "जाको राखे सरकार,उसका उखाड़ सके ना कोय"...
तो अब ताली पीटना बन्द करिए और असली DNA से वाकिफ हो जाइए....हो सके अगर मोदी जी से तो उमा खुराना के आँसुओं के लिए ही सही कुछ कर दें,क्योंकि उनकी जिन्दगी से वो काले और स्याह दिन मोदी जी भी नहीं मिटा सकते....और हो सके अगर हमसे तो इन दो कौड़ी के लोगों को देश का हीरो समझना छोड़ दें,उमा खुराना के लिए ही सही क्योंकि जब वो इसकी तारीफें सुनती होंगी तो तड़प उठती होंगी....
जय हिन्द
#GodiMedia #PaidMedia

No comments:

Post a Comment